PM मोदी से गले मिलने के एक दिन बाद बोले राहुल, कहा- प्यार से करेंगे PM की नफरत का सामना


बीती शाम शुक्रवार को संसद में विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव के असफल होने के बाद राहुल गांधी ने पहली बार अविश्वास प्रस्ताव और पीएम मोदी पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि संसद में अविश्वास प्रस्ताव लाने का मकसद पीएम मोदी की विपक्ष के प्रति नफरत, डर और गुस्से का प्यार और दया के साथ मुकाबला करना था। राहुल गांधी ने बीती शाम अविश्वास प्रस्ताव पर जोरदार भाषण देने के बाद पीएम मोदी को गले लगा लिया था।
loading...

राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा, कल संसद में हुई बहस का मूल। प्रधानमंत्री ने अपना उद्देश्य पूरा करने के लिए नफरत, डर और गुस्से का इस्तेमाल किया। वहीं हम यह साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि सभी देशवासियों के मन में प्यार और दया की भावना ही राष्ट्र निर्माण का एक मात्र तरीका है। हम यही करेंगे। 

पीएम मोदी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार ने अविश्वास प्रस्ताव को 199 के मुकाबले 325 वोटों से जीत लिया था। दरअसल यह पहले से ही तय था कि अविस्वास प्रस्ताव में जीत एनडीए की ही होगी क्योंकि उनके पास पर्याप्त बहुमत था।

अपने 45 मिनट के भाषण में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर सर्जिकल स्ट्राइक, जीएसटी, नोटबंदी, बेरोजगारी और राफेल डील, मॉब लिंचिंग, महिलाओं और दलितों के मुद्दे को लेकर जमकर निशाना साधा था। राहुल गांधी ने अपने भाषण में सर्जिकल स्ट्राइक को जुमला स्ट्राइक करार दिया था। 

राहुल के भाषण के बाद पीएम मोदी ने एक-एक करके उनके सभी आरोपो पर जोरदार पलटवार किया था। पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा था कि कुछ लोग नकारात्म राजनीति कर देश को अस्थिर करना चाहते हैं। पीएम मोदी ने राहुल के गले मिलने पर भी निशाना साधा था।  
loading...

No comments:

Post a Comment

उड़ी से भी बड़ा आतंकी हमला, CRPF के काफिले के 42 जवान शहीद

14 फरवरी, 2019. शाम के करीब 3 बजकर 20 मिनट हो रहे थे. इसी वक्त जम्मू -कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक बड़े काफिले पर हमल...